जीती हुईं सीटों में फेरबदल नहीं करेगा महागठबंधन, बाकी पर 16 को होगा फैसला

  • Jul 11, 2019
Khabar East:Legislative-Assembly-will-not-reshuffle-seats-16-will-be-decided-on-rest
रांची,11 जुलाईः

झारखंड में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर महागठबंधन को स्वरूप देने के लिए नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन ने विपक्षी दलों की बैठक बुलाई। जिसमें कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, जेवीएम के प्रदेश प्रवक्ता सरोज सिंह, मासस के अरूप चटर्जी और आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष अभय सिंह शामिल हुए। इस बैठक से जेवीएम अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार निजी वजह से दूर रहे लेकिन ज्यादातर वामदलों ने जानबूझकर दूरी बनाई। करीब दो घंटे से ज्यादा चली इस बैठक में सीट शेयरिंग को लेकर चर्चा हुई। यह फैसला लिया गया कि महागठबंधन के दल विधानसभा चुनाव हेमंत सोरेन के नेतृत्व में लड़ेंगे। इस बात पर भी सहमति बनी कि 2014 की विनिंग सीटों में कोई छेड़छाड़ नहीं की जाएगी। जेएमएम नेता हेमंत सोरेन ने कहा कि भाजपा और रघुवर सरकार को झारखंड से बाहर का रास्ता दिखाना है। इसके लिए महागठबंधन दलों को एकसाथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ना होगा। वामदलों को भी साथ लाने की कवायद है। 16 जुलाई की बैठक में इस पर फैसला लेंगे। ईवीएम पर भी सबकी राय मांगी गई है। कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि हम सब विधानसभा चुनाव गठबंधन में लड़ेंगे। अभी 32 सीटों पर विपक्ष का कब्जा है। ये सीटें जीतने वाले दलों के खाते में ही जाएंगी। जेवीएम से बीजेपी में गए 6 विधायकों वाली सीट पर फैसला बाद में होगा। 81 सीटों वाली झारखंड विधानसभा में फिलहाल 32 सीटें विपक्ष के पास हैं। इसमें 19 जेएमएम, 09 कांग्रेस, 02 जेवीएम और एक-एक माले व मासस के पास हैं।

Author Image

Khabar East

  • Tags: