तीन चरण के चुनाव के बाद विरोधियों ने अपनी पराजय स्वीकार कर ली हैः पीएम मोदी

  • Apr 24, 2019
Khabar East:After-the-three-phase-elections-the-opponents-have-accepted-their-defeat-PM-Modi
रांची,24 अप्रैलः

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोहरदगा के बीएस कॉलेज मैदान में चुनावी सभा को संबोधित किया और विरोधियों पर जमकर निशाना साधा। सभा में उमड़ी भारी भीड़ का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि ऐसा जनसैलाब पहले कभी नहीं देखा। यह लहर नहीं ललकार है, फिर एक बार मोदी सरकार है। उन्‍होंने कहा कि इस लहर से महामिलावटी कुनबे में हड़कंप मचा हुआ है। पीएम मोदी ने दावा किया कि तीन चरण के चुनाव के बाद विरोधियों ने अपनी पराजय स्वीकार कर ली है। उन्होंने मान लिया है कि फिर एक बार मोदी सरकार। उन्होंने कहा कि जब विरोधी मोदी को गाली देते-देते थक गए, तो अब मोदी छोड़कर ईवीएम को गाली दे रहे हैं। अपनी पराजय का ठीकरा ईवीएम पर फोड़ रहे हैं। विपक्ष में पीएम बनने का सपने देखने वालों के ख्वाब चकनाचूर हो गए। पीएम ने तंज कसते हुए कहा कि विधानसभा चुनाव जीतने की हैसियत नहीं रखने वाले लोग पीएम बनने का ख्वाब देख रहे थे। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के रवैये से देश को काफी नुकसान पहुंचा है। इससे आतंकियों और नक्सलियों का हौसला बढ़ जाता है। कांग्रेस देश के लिए नहीं, परिवार के लिए सरकार चलाना चाहती है। हर फैसला नामदार परिवार को ध्यान में रख कर करती है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने आदिवासियों को सिर्फ वोटबैंक की तरह इस्तेमाल किया। जंगल और खनिज के बदले उन्हें कुछ नहीं दिया, जबकि मोदी सरकार में आदिवासियों की जल, जंगल और जमीन सुरक्षित हैं। श्रीलंका ब्लास्ट का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि 2014 से पहले पाकिस्तान आतंकी भेजकर देश में हमला करवाते थे और कांग्रेस सरकार डर-डर कर रोती थी, लेकिन चौकीदार की सरकार ने पाकिस्तान में घुसकर आंतकियों को मारा। आज आतंकियों के मन में मोदी का डर है। पीएम ने कहा कि कांग्रेस सेना से सबूत मांगती है. जवानों के शौर्य पर शक करती है। ऐसा कर पार्टी उन परिवारों का भी अपमान कर रही, जिनका बेटा या बेटी सेना या अर्धसैनिक बलों में हैं। कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारास्वामी के बयान पर वार करते हुए पीएम ने कहा कि क्या सेना में अपने बच्चों को भेजने वाले परिवार भिखारी हैं। पुलवामा के शहीद इसलिए सेना में गये कि उन्हें घर में रोटी नहीं मिलती थी। ये कैसी भाषा बोली जा रही है। पीएम ने कहा कि पिछले पांच साल में देश में नक्सलवाद और आतंकवाद कम हुए हैं। रांची के रोड शो का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि पूरा शहर रोड पर खड़ा था. हवा का रूख क्या है। लहर किसको कहते हैं। जनता का मिजाज क्या होता है। रांची और झारखंड की जनता ने दिखा दिया।

Author Image

Khabar East

  • Tags: